Posts

Showing posts from May, 2016

Hindi shayari | Best Shayari In Hindi Images

Image
You may send Hindi Shayari to a distinctive friend, person you're courting, or your wife. Hindi shayari is a lovely group of Hindi poetry you may share with your nearest and dearest. Every Shayari tells an actual story of daily life. Saying a fantastic romantic Shayari before the individual you adore will definitely work.

You won't ever get sms from someone that you do not know. It is possible to long chat by means of this SMS from anywhere you really feel like. This SMS has altered the existence of individuals.

It's possible for you to write poetry on any subject should you really need to. Nowadays things are extremely easily available so that you may easily access poetry of Hindi and Urdu. There really isn't that much of a difference as it is all poetry that we may learn from. There are lots of reasons that you may decided to write poetry but the chief explanation is that you would just like to write. Although Urdu Poetry is characterized by various standard ingredi…

link ads

बाजारात मला दोन मित्र भेटले एकाने1000रू नोट दिली

बाजारात मला दोन मित्र भेटले
एकाने1000रू नोट दिली आणि दुसरैने 500दिले
1000 + 500 = 1500 झाले1000रू ची नोट बाजारात हरवलीमग माझ्या कडे उरले 500रूपयेत्या 500रूपये मधील 300रूपये मी खर्च केले माझ्या शिलक राहिले 200रुपये मग 200मधून ज्यानी 1000 दिले होते त्याला दिले 100 व ज्यानी 500 दिले होते त्याला दिले 100

आत्ता 1000रुपये वाल्याचे बाकी 900रुपये आणि 500रुपये वाल्याचे 400
तर 900 + 400 = 1300 आणि खर्च झाले 300रुपये टोटल 1300 + 300 = 1600 झाले मग माझ्या लक्षात आले की
  मी तर1500 रुपये घेतले होते 1600 रूपये कुठून आले ?
मला विश्वास आहे की ह्या ग्रुप मधे
कोण तरी मास्टर हेडमास्टर गणितज्ञ किवा अर्थशास्त्री आसेल तो माझी मदत करेल
👆👍🙏

कपाट उघडल्यावर बायकांसमोर 2 समस्या असतात .

Image
कपाट उघडल्यावर बायकांसमोर 2 समस्या असतात ......
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
घालायला कपडे नाहीत
अन ....,
ठेवायला जागा पण नाही .....


कधी कधी मित्रांवरच केस टाकू वाटती jokes

Image
कधी कधी मित्रांवरच केस टाकू वाटती
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.


.
निदान तारखेच्या नादानी भेटतील तरी   कोर्टात 😔

आतापर्यंत भारतामध्ये फक्त दोनच गोष्टी सुरू होत्या jokes

Image
आतापर्यंत भारतामध्ये फक्त दोनच गोष्टी सुरू होत्या... 1.विराट
2.सैराट
.
.
आणि काय योगायोग
.
.
दोघांचा पण शेवट एकच
.
.
.
.
.
.
.
.
.
हैदराबाद


पाटिल funny marathi jokes

Image
पाटलांची कार बिघडली म्हणून ते पायी पायी कामासाठी जात होते. तेवढ्यात त्यांना जोशी भेटला,
आणि त्याने खवचटपणें विचारले, काय पाटिल, आज पायी पायी...?
कार विकली की काय.... पाटिल म्हणाले,‘अरे आज तुम्हीपण एकटेचं..
वहिनी दिसत नाही बरोबर...?
कुणाबरोबर पळून गेल्या की काय.. पाटलाचा नादाला लागायचं  नाय ⁠⁠⁠

अनमोल विचार विवेकानंद

Image
1)हारना सबसे
बुरी विफलता नहीं है. कोशिश
ना करना ही सबसे बड़ी विफलता है.

2)सर्व प्राण्यापेक्षा मनुष्य हा अधिक श्रेष्ठ
आहे.त्याच्याहून उच्च कुणीही नाही
देवांना देखील पृथ्वीवर पुन:जन्म
घ्यावा लागतो आणि मानव देहांच्या द्वारे
मुक्ती प्राप्त करून घ्यावी लागते.केवळ
मनुष्यालाच पूर्णत्वाचा लाभ करून घेता
येतो.देवदेवतांना देखील नाही.----
स्वामी विवेकानंद
3)आयुष्यात काही करून दाखवायचे असेल तर आपण काय आहोत? यापेक्षा आपण काय होऊ शकतो याचा विचार करायला हवा, जगात अशक्य काहीच नसतं.
4)अरे विचार काय करतोस, काहितरी करून दाखव.. वेळ जाईन निघून, प्रवाहामध्ये तरून दाखव..
लाखो आले अन गेले, बोल घेवडे सगळे..
स्व:ता काही नाही केले, फ़क्त लोकाना उपदेश दिले..
उपदेशाचं कडू तु पिऊन तर बघ..
सत्याची कास धरून तर बघ..
कुणीतरी आपल्या भल्याच सांगत असतं..
एखाद्यावर विश्वास ठेवून तर बघ..
यश आपल्याच हातात असतं रे..
प्रयत्नाची पराकाष्टा करून तर बघ..
होशील खुप मोठा, स्व:तावर विश्वास ठेवून तर बघ..











आदर्श के लिए जियो अनमोल विचार

Image
आदर्श के लिए जियो - जो किसी बात की चिन्ता नहीं करता, उसके पास सब कुछ आप ही आप पहुंच जाता है। धन-सम्पत्ति तो चंचल नारी के समान है, वह उसकी परवाह नहीं करती जो उसे बहुत चाहता है। धन अपनी वर्षा उसके निकट आकर कर जाता है, जिसने उसकी परवाह कभी नहीं की, इसी प्रकार लोक-प्रसिद्धि भी इतनी अधिक मात्रा में आती है कि वह सिरदर्द और भार बन जाती है ये सब सदा स्वामी के पास जाते हैं। उनका दास कभी कुछ नहीं पाता। स्वामी वही है जो उनके बिना भी रह सके, जिसका जीवन संसार की क्षुद्र एवं मूर्खतापूर्ण चीजों पर निर्भर नहीं करता। एक, और केवल एक आदर्श के लिए जियो। उस आदर्श को इतना महान, इतना शक्तिशाली बनाओ कि उसके अतिरिक्त अन्य कुछ अन्त:करण में रह ही न जाए। किसी अन्य वस्तु के लिए स्थान नहीं, किसी अन्य बात के लिए समय नहीं।

वसीयत और नसीहत कहानियां

वसीयत और नसीहत :
.
एक दौलतमंद इंसान ने अपने बेटे को वसीयत करते हुऐ कहा "बेटा मेरे मरने के बाद मेरे पैरों मे ये फटे हुऐ मोज़े (जुराबें) पहना देना, मेरी यह ख्वाहिश जरूर पूरी करना ! बाप के मरते ही नहलाने के बाद बेटे ने आलिम से बाप की ख़ाहिश बताई, आलिम ने कहा हमारे दीन में सिर्फ कफ़न पहनाने की इज़ाज़त है, पर बेटे की ज़िद थी कि बाप की आखरी ख़ाहिश पूरी हो, बहस इतनी बढ़ गई की शहर के उलेमाओं को जमा किया गया लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला,
इसी माहौल में एक शक़्स आया और आकर बेटे के हाथ मे बाप का लिखा हुवा खत दिया जिस मे बाप की नसीहत लिखी थी
"मेरे प्यारे बेटे"
देख रहे हो ? दौलत, बंगला , गाडी और बड़ी बड़ी फैक्ट्री और फॉर्म हाउस के बाद भी मैं एक फटा हुवा मोजा तक नहीं ले जा सकता,
एक रोज़ तुम्हें भी मौत आएगी, आगाह हो जाओ तुम्हे भी एक कफ़न मे ही जाना पड़ेगा, लेहाज़ा कोशिश करना दौलत का सही इस्तेमाल करना,
नेक राह मैं ख़र्च करना, बेसहाराओं को सहारा बनना क्युकि क़ब्र में सिर्फ तुम्हारे कर्म ही जाएंगे"

झूठ के पाँव नहीं होते आध्यात्मिक कहानियां

Image
<3 झूठ के पाँव नहीं होते <3 दोस्तों आज एक ऐसी कहानी शेयर कर रही हूँ जो आपने बचपन में बहुत सुनी होगी और आज भूल गए होंगे जब पढ़ेंगें तो याद आ जाएगी उस गडरिये की कहानी जिसने झूठ बोला और उसका क्या असर हुआ था.. पहाड़ की तराई में स्थित किसी गांव में एक लड़का रहता था। वह बहुत ही शरारती था। वह अपने मित्रों के साथ तरह-तरह की शरारतें करता था तथा उन्हें बेवकूफ बनाता था। वह उन्हें बनावटी कहानियां सुनाता रहता था। जब उसके मित्र उन कहानियों पर विश्वास कर लेते थे तो वह लड़का उनकी हंसी उड़ाता और कहता, “अरे मूखों ! यह एक झूठी कहानी थी।’ ऐसी शरारतें करना उसकी आदत बन गई थी। वह सबसे झूठ बोलता रहता था। यहां तक कि वह अपने माता-पिता से भी झूठ बोलता था। उसके माता-पिता ने उसे सुधारने के कई प्रयत्न किए परंतु उसके कानों में जूं तक नहीं रेंगी। उसके अध्यापकों ने भी उसे कई बार समझाने का प्रयत्न किया परंतु वह नहीं सुधरा। छुट्टियां शुरू हो गई। एक दिन उसके माता-पिता ने उससे भेड़ों को बाहर पहाड़ी पर ले जाकर घास चराने के लिए कहा। वह राजी हो गया। उसकी मां ने उसके लिए पोटली में भोजन बांधकर रख दिया। उस पोटली में उस लड…

मृत्यु कहानियां

Image
मृत्यु 
*******
भगवान विष्णु गरुड़ पर बैठ कर कैलाश पर्वत पर गए।द्वार पर गरुड़ को छोड़ कर खुद शिव से मिलने अंदर चले गए। तब कैलाश की अपूर्व प्राकृतिक शोभा
को देख कर गरुड़ मंत्रमुग्ध थे कि तभी उनकी नजर एक खूबसूरत छोटी सी चिड़िया पर पड़ी।
चिड़िया कुछ इतनी सुंदर थी कि गरुड़ के सारे विचार उसकी तरफ आकर्षित होने लगे। उसी समय कैलाश पर यम देव पधारे और अंदर जाने से पहले उन्होंने उस छोटे से पक्षी को आश्चर्य की द्रष्टि से देखा। गरुड़ समझ गए उस चिड़िया का अंत निकट है और यमदेव कैलाश से निकलते ही उसे अपने साथ यमलोक ले जाएँगे।
गरूड़ को दया आ गई। इतनी छोटी और सुंदर चिड़िया को मरता हुआ नहीं देख सकते थे। उसे अपने पंजों में दबाया और कैलाश से हजारो कोश दूर एक जंगल में एक चट्टान के ऊपर छोड़ दिया, और खुद बापिस कैलाश पर आ गया।
आखिर जब यम बाहर आए तो गरुड़ ने पूछ ही लिया कि उन्होंने उस चिड़िया को इतनी आश्चर्य भरी नजर से क्यों देखा था। यम देव बोले "गरुड़ जब मैंने उस चिड़िया को देखा तो मुझे ज्ञात हुआ कि वो चिड़िया कुछ ही पल बाद यहाँ से हजारों कोस दूर एक नाग द्वारा खा ली जाएगी। मैं सोच रहा था कि वो इतनी जलदी इतनी दूर कैसे जा…

प्रेम की दीक्षा कहानियां

Image
एक आचार्य के पास एक युवक दीक्षा के 
लिए आया। आचार्य ने उससे पूछा - क्या 
तुम मुझसे दीक्षा लेने के लिए अपना घर 
छोड़कर आए हो। युवक ने हामी भरी।
इस पर आचार्य ने पुनः सवाल किया ---
क्या तुम अपने घरवालों से प्रेम नहीं
करते ? युवक बोला -- नहीं आचार्य, मेरे
घरवाले ही मुझसे प्रेम नहीं करते।
आचार्य ने मुस्कराते हुए कहा -- प्रिय वत्स !
पहले तुम उनमें अपने लिए प्रेम पैदा करो।
यही जीवन की सबसे बड़ी साधना है। हो
सकता है उसके बाद तुम्हें मेरी दीक्षा की
जरूरत ही न पड़े।


कबीर ने दिखाया सन्मार्ग

Image
-------------------= कबीर ने दिखाया सन्मार्ग =--------------------
बरसात का मौसम था। कबीर साहेब जुलाहे का काम करके अपना पेट पालते थे। 
उस दिन कपड़े बेचने वे बाजार नहीं जा पाये। तभी कुछ संत-महात्मा अचानक उनके घर आ गए। घर में भोजन सामग्री कम ही थी। कबीर ने अपनी पत्नी लोई से पूछा, ' क्या किसी दुकानदार से कुछ आटा-दाल ला सकती हो, पैसा बाद में चुका देंगे। '
लोई कुछ दुकानदारों के पास गयीं। पर सभी ने उधार देने से इंकार कर दिया। एक गरीब जुलाहे को कौन उधार देता, जिसकी कोई निश्चित आय भी नहीं थी। लोई इधर-उधर भटक रही थी आखिर एक दुकानदार उधार देने को तैयार हो गया पर उसने यह शर्त रखी कि वह रात भर उसके घर रहे। दुकानदार की नीचता भरी शर्त उसे बुरी तो बहुत लगी, पर वह खामोश रही। उसे जितना सामान चाहिए था, दुकानदार ने दे दिया।
घर आकर लोई ने खाना बनाया और जो बातचीत दुकानदार से हुई थी, कबीर साहेब को बता दी। कबीर साहेब ने कहा कि दुकानदार का कर्ज चुकाने का वक्त आ गया है। उन्होंने यह भी कहा कि चिंता मत करना, मालिक सब ठीक करेगा। जब वह तैयार हो गयी, तो उन्होंने कहा, ' बारिश हो रही है और गली में कीचड़ भरी है…

आधी रोटी का कर्ज कहानियां

.आधी रोटी का कर्ज...
****************************
पत्नी बार बार मां पर इल्जाम लगाए जा रही थी और पति बार बार उसको अपनी हद में रहने की कह रहा था...लेकिन पत्नी चुप होने का नाम ही नही ले रही थी व् जोर जोर से चीख चीखकर कह रही थी कि....
"उसने अंगूठी टेबल पर ही रखी थी और तुम्हारे और मेरे अलावा इस कमरें मे कोई नही आया तो ...अंगूठी हो ना हो मां जी ने ही उठाई है......।।
बात जब पति की बर्दाश्त के बाहर हो गई तो उसने पत्नी के गाल पर एक जोरदार तमाचा दे मारा ....अभी तीन महीने पहले ही तो शादी हुई थी ।पत्नी से तमाचा सहन नही हुआ..वह घर छोड़कर जाने लगी और जाते जाते पति से एक सवाल पूछा कि तुमको अपनी मां पर इतना विश्वास क्यूं है..??
तब पति ने जो जवाब दिया उस जवाब को सुनकर दरवाजे के पीछे खड़ी मां ने सुना तो उसका मन भर आया..
पति ने पत्नी को बताया कि..."जब वह छोटा था तब उसके पिताजी गुजर गए तब मां मोहल्ले के घरों मे झाडू पोछा लगाकर जो कमा पाती थी उससे एक वक्त का खाना आता था .मां एक थाली में मुझे परोसा देती थी और खाली डिब्बे को ढककर रख देती थी और कहती थी मेरी रोटियां इस डिब्बे में है.......बेटा तू खा ले ..…

बेटी की कहानियां

Image
।।।।।।।।।। बेटियों ।।।।।।।।।।।।।।।।।
एक संत की कथा में एक बालिका खड़ी हो गई।
चेहरे पर झलकता आक्रोश...
संत ने पूछा - बोलो बेटी क्या बात है?
बालिका ने कहा- महाराज हमारे समाज में लड़कों को हर प्रकार की आजादी होती है।
वह कुछ भी करे, कहीं भी जाए उस पर कोई खास टोका टाकी नहीं होती।
इसके विपरीत लड़कियों को बात बात पर टोका जाता है।
यह मत करो, यहाँ मत जाओ, घर जल्दी आ जाओ आदि।
संत मुस्कुराए और कहा...
बेटी तुमने कभी लोहे की दुकान के बाहर पड़े लोहे के गार्डर देखे हैं?
ये गार्डर सर्दी, गर्मी, बरसात, रात दिन इसी प्रकार पड़े रहते हैं।
इसके बावजूद इनका कुछ नहीं बिगड़ता और इनकी कीमत पर भी कोई अन्तर नहीं पड़ता।
लड़कों के लिए कुछ इसी प्रकार की सोच है समाज में।
अब तुम चलो एक ज्वेलरी शॉप में।
एक बड़ी तिजोरी, उसमें एक छोटी तिजोरी।
उसमें रखी छोटी सुन्दर सी डिब्बी में रेशम पर नज़ाकत से रखा चमचमाता हीरा।
क्योंकि जौहरी जानता है कि अगर हीरे में जरा भी खरोंच आ गई तो उसकी कोई कीमत नहीं रहेगी।
समाज में बेटियों की अहमियत भी कुछ इसी प्रकार की है।
पूरे घर को रोशन करती झिलमिलाते हीरे की तरह।
जरा सी खरोंच से उसके और उसके परिवार के पास कुछ…

मूर्तिकार का अहंकार कहानियां

Image
"मूर्तिकार का अहंकार "
एक मूर्तिकार उच्चकोटि की ऐसी सजीव मूर्तियाँ बनाता था, जो सजीव
लगती थीं। लेकिन उस मूर्तिकार को अपनी कला पर बड़ा घमंड था।
उसे जब लगा कि जल्दी ही उसकी मृत्यु होने वाली है तो वह परेशानी में पड़ गया। यमदूतों को भ्रमित करने के लिये उसने एकदम अपने जैसी दस मूर्तियाँ बना डालीं और योजनानुसार उन बनाई गई मूर्तियों के बीच मे वह स्वयं जाकर बैठ गया। यमदूत जब उसे लेने आए तो एक जैसी ग्यारह आकृतियाँ देखकर स्तम्भित रह गए। इनमें से वास्तविक मनुष्य कौन है- नहीं पहचान पाए।
वे सोचने लगे, अब क्या किया जाए। मूर्तिकार के प्राण अगर न ले सके तो सृष्टि का नियम टूट जाएगा और सत्य परखने के लिये मूर्तियाँ तोड़ें तो कला का अपमान होगा।
अचानक एक यमदूत को मानव स्वभाव के सबसे बड़े दुर्गुण अहंकार की स्मृति आई। उसने चाल चलते हुए कहा- "काश इन मूर्तियों को बनाने वाला मिलता तो मैं उसे बताता कि मूर्तियाँ तो अति सुंदर बनाई हैं,लेकिन इनको बनाने में एक त्रुटि रह गई।" यह सुनकर मूर्तिकार का अहंकार जाग उठा कि मेरी कला में कमी कैसे रह सकती है, फिर इस कार्य में तो मैंने अपना पूरा जीवन समर्पित किया …

दो दोस्त कहानियां

एक बार दो दोस्त घूमते हुए एक महल के पास पहुँच गए तो, 
पहले दोस्त ने उस शानदार महल को देखकर कहा की जब इनमें रहने वालों की किस्मत लिखी जा रही थी तब हम कहाँ थे??
दूसरा दोस्त पहल वाले का हाथ पकड़ कर अस्पताल ले गया और मरीजो को दिखाते हुए कहा कि जब इनकी किस्मत लिखी जा रही थी तब हम कहाँ थे??
मित्रों भगवान ने हमें जो भी दिया उसमें हमेशा खुश रहिये।
किसी संत ने क्या खूब कहा है कि तुम अपने पुराने जूतों को देखकर क्यों परेशान होते हो दुनिया में तो कई लोग ऐसे भी हैं जिनके तो पैर ही नहीं हैं।
उस मालिक का हर हाल में शुक्र करना सीखें। आज भी तेरा शुक्राना, कल भी तेरा शुक्राना, हर पल तेरा शुक्राना।
शुक्राना तेरा शुक्राना तेरा शुक्राना तेरा

नीयत का फल आध्यात्मिक कहानियां

Image
नीयत का फल 💕💕💕💕
.
कुछ धनी किसानों ने मिलकर खेती के लिए एक कुँआ बनवाया. पानी निकालने के लिए सबकी अपनी-अपनी बारी बंधी थी.
.
कुंआ एक निर्धन किसान के खेतों के पास था लेकिन चूंकि उसने कुंआ बनाने में धन नहीं दिया था इसलिए उसे पानी नहीं मिलता था.
.
धनी किसानों ने खेतों में बीज बोकर सिंचाई शुरू कर दी. निर्धन किसान बीज भी नहीं बो पा रहा था. उसने धनवानों की बड़ी आरजू मिन्नत की लेकिन एक न सुनी गई.
.
निर्धन बरसात से पहले खेत में बीज भी न बो पाया तो भूखा मर जाएगा. अमीर किसानों ने इस पर विचार किया. उन्हें किसान पर दया आ गई इसलिए सोचा कि उसे बीज बोने भर का पानी दे ही दिया जाए.
.
उन्होंने एक रात तीन घंटे की सिंचाई का मौका दे दिया.
.
उसे एक रात के लिए ही मौका मिला था. वह रात बेकार न जाए यह सोचकर एक किसान ने मजबूत बैलों का एक जोड़ा भी दे दिया ताकि वह पर्याप्त पानी निकाल ले.
.
निर्धन तो जैसे इस मौके की तलाश में था. उसने सोचा इन लोगों ने उसे बहुत सताया है. आज तीन घंटे में ही इतना पानी निकाल लूंगा कि कुछ बचेगा ही नहीं.
.
इसी नीयत से उसने बैलों को जोता पानी निकालने लगा.
बैलों को चलाकर पानी निकालने लगा. पानी निकालने का…

शाही स्नान कहानियां

Image
"शाही स्नान"
शाही स्नान का पर्व था। राम घाट पर भारी भीड़ लग रही थी।
शिव पार्वती आकाश से गुजरे। पार्वती ने इतनी भीड़ का कारण पूछा - आशुतोष ने कहा - सिंघस्त कुम्भ पर्व पर शाही स्नान करने वाले स्वर्ग जाते है। उसी लाभ के लिए यह स्नानार्थियों की भीड़ जमा है।
पार्वती का कौतूहल तो शान्त हो गया पर नया संदेह उपज पड़ा, इतनी भीड़ के लायक स्वर्ग में स्थान कहाँ है? फिर लाखों वर्षों से लाखों लाख लोग इस आधार पर स्वर्ग पहुँचते तो उनके लिए स्थान भी तो कहीं रहता?
छोटे से स्वर्ग में यह कैसे बनेगा? भगवती ने अपना नया सन्देह प्रकट किया और समाधान चाहा।
भगवान शिव बोले - शरीर को गीला करना एक बात है और मन की मलीनता धोने वाला स्नान जरूरी है। मन को धोने वाले ही स्वर्ग जाते हैं। वैसे लोग जो होंगे उन्हीं को स्वर्ग मिलेगा।
सन्देह घटा नहीं, बढ़ गया।
पार्वती बोलीं - यह कैसे पता चले कि किसने शरीर धोया किसने मन संजोया।
यह कार्य से जाना जाता है। शिवजी ने इस उत्तर से भी समाधान न होते देखकर प्रत्यक्ष उदाहरण से लक्ष्य समझाने का प्रयत्न किया।
मार्ग में शिव कुरूप कोढ़ी बनकर पड़े रहे। पार्वती को और भी सुन्दर सजा दिया। दोनों ब…

कहाँ हैं भगवान ? आध्यात्मिक कहानियां

Image
कहाँ हैं भगवान ?
कहाँ हैं भगवान ?
एक आदमी हमेशा की तरह अपने नाई की दूकान पर बाल कटवाने गया . बाल कटाते वक़्त अक्सर देश-दुनिया की बातें हुआ करती थीं ….आज भी वे सिनेमा , राजनीति , और खेल जगत , इत्यादि के बारे में बात कर रहे थे कि अचानक भगवान् के अस्तित्व को लेकर बात होने लगी . नाई ने कहा , “ देखिये भैया , आपकी तरह मैं भगवान् के अस्तित्व में यकीन नहीं रखता .”
“ तुम ऐसा क्यों कहते हो ?”, आदमी ने पूछा . “अरे , ये समझना बहुत आसान है , बस गली में जाइए और आप समझ जायेंगे कि भगवान् नहीं है . आप ही बताइए कि अगर भगवान् होते तो क्या इतने लोग बीमार होते ?इतने बच्चे अनाथ होते ? अगर भगवान् होते तो किसी को कोई दर्द कोई तकलीफ नहीं होती ”, नाई ने बोलना जारी रखा , “ मैं ऐसे भगवान के बारे में नहीं सोच सकता जो इन सब चीजों को होने दे . आप ही बताइए कहाँ है भगवान ?”
आदमी एक क्षण के लिए रुका , कुछ सोचा , पर बहस बढे ना इसलिए चुप ही रहा .
नाई ने अपना काम ख़तम किया और आदमी कुछ सोचते हुए दुकान से बाहर निकला और कुछ दूर जाकर खड़ा हो गया. . कुछ देर इंतज़ार करने के बाद उसे एक लम्बी दाढ़ी – मूछ वाला अधेड़ व्यक्ति उस तरफ आत…

परश्या आर्चि jokes

Image
नेत्याच्या नशिबी खुर्ची 😃
,
,
परश्याच्या नशिबी आर्चि😀😀
,
,
तुमच्या नशिबी घरची😀😀😀
अणि आमच्या नशिबी काय माहीत..
कसी मिळते लवंगी मिर्ची😅😅😅
एक अविवाहित तरुण

शादी क्या है jokes

Image
😜  ';';शादी क्या है';'; 😱

बिजली के दो तार सही जुड़े तो प्रकाश ही प्रकाशगलत जुड़े तो
धमाके ही धमाके
😂😂😂😝😜 😜
                  आपला
                तात्या वायरमन

Girls makeup jokes in marathi

Image
मुलींना मेक अप धुण्याआधी त्यांचा आत्मा नक्कीच विचारत असेल
:
:
:.
:
:
:
:
:
:
:
Are you sure you want to restore factory settings?😝😝😝😝

आर्ची marathi jokes

Image
इंग्रजीत नापास झालेल्या विद्यार्थ्यांनी काळजी करू नए
कारण...😎















इंग्रजी मध्ये फेल झालेल्यांना आर्ची इंग्लिश मध्ये शिकवणार...🙋
&#0;😝😝😝😄😂😂😂

रात्रीस खेळ चाले jokes

Image
बारावीचा निकाल जाहिर.... कोकण विभागाचा निकाल सर्वाधिक ९३.२९... "रात्रीस खेळ चाले" मालीकेच्या प्रभावामुळे कोकणातील मुलांनी रात्री बाहेर न फिरता जोरदार अभ्यास केला... या बद्दल मालिकेचे व सर्व यशस्वी विध्यार्थ्यांचे अभिनंदन...😜

आर्ची jokes

Image
कोणाकडे दहावीची जुनी पुस्तक
आहेत का ??????
...आर्चीला हवी आहेत..😂😂😂😂😂😂

3 Sawal, 1 jawab puzzles

Image
1 baba 1 bachi K Sath 1 murghi Lekar Ja Rhe the. Raste Me 1 aadmi Ne Unse 3 Sawal Poche..
1. Apki Umar Kitni Hai?
2. Is Bachi Ka Ap Se Kya Rishta Hai?
3. Is Murgi Ki Kimat Kitni Hai?
Buzurg Ne Sirf 1 word Bola Aur 3 Sawal K Jawab mil Gaye… Ab Batao Wo word Kaun Sa Tha?

100 ki note ke chhute karo jisme 10 ki note na ho aur note sirf 10 ho?

Image
100 ki note ke chhute karo jisme 10 ki note na ho aur note sirf 10 ho?

6 Sawal 6 Challenges puzzles and answer

6 Sawal 6 Challenges; 1. Kis Shakhs Ka Birthday Har Saal Nahi Aata? Ans_ 2. Dhoop Me Kya Chiz Nahi Sukh Sakti? Ans_ 3. Kon Sa fal Mitha Hone Ke Bawjud Sale Nahi Hota? Ans_ 4. Konsi Chiz Hai JisKa Naam Lo to Wo Tut Jati Hai? Ans_ 5. Wo Kon Hai Jo Bager Pair Ke Bhagta Hai or Lot Kar Nahi Aata? Ans_ 6. Kon si Machli Samandar Me Nahi Tair Sakati? Ans_ Is there anybody who can ans these GK Questions?? Absolutely amazing!


Ansr karo... Main toh A







1. Kis Shakhs Ka Birthday Har Saal Nahi Aata? Ans_ 29 feb
2. Dhoop Me Kya Chiz Nahi Sukh Sakti? Ans_ paseena 3. Kon Sa fal Mitha Hone Ke Bawjud Sale Nahi Hota? Ans_ sabra ka fal 4. Konsi Chiz Hai JisKa Naam Lo to Wo Tut Jati

Wo kaun si cheez hai.. Jo Puzzle and answer

Image
Wo kaun si cheez hai.. Jo Banane wala bech deta hai.. Khareedne wala istemaal nahi karta... Aur Jo istemal karta hai usko maloom nahi hota... CHALLANGE. Reply Fast.----------ans

Wo kiya chaiz hai Jo raat ko qabron per ghomti hai|and answer

Image
Wo kiya chaiz hai Jo raat ko qabron per ghomti hai
Or din ko mehel me aa jati hai Mard us se darte hian or auraten use pasnd karti hain Bachay is se khelte hain is ki khorak namak or khajoor hai is ke jism par oun or baal hain is ka naam meem se ata hai Quraan me bhe is ka zikar hai Batao wo kiya hai socho pocho jis se chaho jawab do. reply lazmi.

Wo kya cheez hai jo khana haram hai peena halal |answer

Image
Wo kya chiz h jo khana haram h or pina halal h din se jyada safed h or raat se jyada kaali h. Aadmi din me 3 baar esteymaal karta h but auorat saal me 1 baar esteymaal karti h.wa kya chiz h answar do



Wo kya cheez hai jo saal me 1 baar mahine me 2 baar and answer

Image
Dimag hai to answer do!
Vo kya chiz hai jo saal me 1 bar, mahine me 2 bar,
hafte me 4 bar, aur din me 6 bar aati hai..?
It's challange 4 u. Ans me..?.. It's Challenge 4 u





Answer :



What is a thing which comes once in a year twice in a month four times in a week and six times in a day? 
The answer is odd numbers 

year = 12 ... the '1' is odd (that's 1) 
month = 4 weeks, so there's 2 odd weeks '1' and '3' (that's 2) 
Week = 7 days... 1,3,5,and7 are odd (that's 4) 
day =12 hours ... 1,3,5,7,9,11 are odd (...that's 6)

रात्रीच्या दाट अंधारात | Kodi marathi

Image
रात्रीच्यादाटअंधारात झाडावरनभीच्याचांदण्या कशाकायउमलल्या? मंदसुगंधाचादरवळ कुठल्याराणीचाआला? ओळखाकोण?

text and image